होम ज्योतिष ओणम आज से, जानें पूजा विधि

ओणम आज से, जानें पूजा विधि

100
0

केरल के प्रमुख त्योहारों में से एक ओणम का त्योहार आज 12 अगस्त से प्रारंभ हो गया है. हिंदी कैलेंडर के मुताबिक़, ओणम का पर्व हर वर्ष भाद्र मास के शुक्ल पक्ष के त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है. जबकि मलयालम कैलेंडर के अनुसार, यह पर्व चिंगम माह में मनाया जाता है, जो कि मलयालम कैलेंडर का प्रथम माह है. विशेष रूप से यह त्योहार हस्त नक्षत्र से शुरू होकर श्रवण नक्षत्र तक चलता है. साल 2021 में यह पर्व 12 अगस्त 2021 से प्रारंभ होकर 23 अगस्त 2021 तक चलेगा. 21 अगस्त को ओणम का मुख्य पर्व रहेगा. ओणम का पर्व अजर-अमर राजा बलि के लिए मनाया जाता है. वहीं किसान यह पर्व अच्छी फसल होने एवं उपज में वृद्धि के लिए मनाते हैं.
ओणम 2021 कब मनाया जाएगा?
ओणम तिथि {Onam 2021 Date}: 21 अगस्त 2021, शनिवार
तिरुओणम नक्षत्र प्रारंभ: 20 अगस्त 2021 को रात 09:24
तिरुओणम नक्षत्र समाप्त: 21 अगस्त 2021 को रात 08:21
ओणम पर्व का धार्मिक महत्व
ओणम का पर्व केरल राज्य में बड़े हर्षोल्लास और आस्था के साथ मनाया जाता है. यह त्योहार किसानों के लिए बहुत अहम होता है. किसान यह त्योहार अपनी अच्छी फसल होने व अच्छी उपज के लिए मनाते हैं. इस पर्व पर असुर राजा महाबली का आदर-सम्मान किया जाता है. यह मान्यता है कि राज बलि इस दिन अपने प्रजा की रक्षा व देखभाल के लिए यहां आता हैं. ओणम का त्योहार न केवल केरल राज्य में अपितु पूरे दक्षिण भारत में धूम-धाम से मनाया जाता है. इस दिन केरल में प्रसिद्ध सर्प नौका दौड़ आयोजित किया जाता है. इसके साथ इस दिन कथकली नृत्य के साथ इस पर्व का लुफ्त उठाया जाता है.

पिछला लेख​​​​​​​राज्यपाल ने प्रधानमंत्री श्री मोदी से नक्सलवाद, पांचवी अनुसूची तथा अन्य विषयों पर की चर्चा
अगला लेखबेसन, सूजी और मैदा को कीड़े लगने से बचाएं

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here