होम देश थोक महंगाई ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

थोक महंगाई ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

67
0

नई दिल्ली (एजेंसी)। कच्चे तेल और विनिर्मित वस्तुओं की बढ़ती कीमतों के कारण थोक कीमतों पर आधारित मुद्रास्फीति अप्रैल में अब तक के उच्चतम स्तर 10.49 प्रतिशत पर पहुंच गई. इसके अलावा पिछले साल अप्रैल के कम आधार ने भी अप्रैल 2021 के दौरान मुद्रास्फीति में हुई बढ़ोतरी में योगदान दिया. मार्च 2021 में डब्ल्यूपीआई मुद्रास्फीति 7.39 प्रतिशत और अप्रैल 2020 में ऋणात्मक 1.57 प्रतिशत थी. थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) पर आधारित मुद्रास्फीति में लगातार चौथे महीने तेजी हुई है. वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने कहा, ‘अप्रैल 2021 (अप्रैल 2020 के मुकाबले) में मासिक डब्ल्यूपीआई पर आधारित मुद्रास्फीति की वार्षिक दर 10.49 प्रतिशत थी।Ó

पिछला लेखहरिद्वार के व्यापारी भुखमरी की कगार पर
अगला लेखकोरोना: हाई कोर्ट ने कहा- नेता स्वास्थ्य विभाग को सौंपे दवा

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here