होम छत्तीसगढ़ स्वदेश दर्शन योजना का किया गया प्रस्तुतीकरण

स्वदेश दर्शन योजना का किया गया प्रस्तुतीकरण

9
0

पर्यटन विभाग की कार्ययोजना, मुख्य सचिव ने की समीक्षा
रायपुर। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्वदेश दर्शन योजना के तहत छत्तीसगढ़ राज्य प्रास्पेक्टिव प्लान तैयार किया गया है जिसका छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड के अधिकारियों ने आज मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन के समक्ष प्रस्तुतीकरण किया। प्रस्तुतीकरण में छत्तीसगढ़ के विभिन्न पर्यटन स्थलों की जानकारी दी गई। मुख्य सचिव ने पर्यटन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि छत्तीसगढ़ में पर्यटन डेस्टीनेशन स्थलों के चयन करते समय पर्यटन विशेषज्ञों एवं कंसलटेंट की राय ली जानी चाहिए। इसके बाद पर्यटन कलस्टरों की जानकारी अद्यतन की जाए। बैठक में बिलासपुर मुंगेली क्लस्टर सहित हसदेव बांगो, पाली चैतूरगढ़, अम्बिकापुर मैनपाट, जशपुर, जगदलपुर, चन्द्रपुर, राजमेरगढ़ और गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही सहित अन्य टूरिज्म डेस्टीनेशन क्लस्टर पर विस्तार से चर्चा की गई। वीडियो कॉन्फ्रंेसिंग के जरिये इस बैठक में पर्यटन विभाग के सचिव श्री अन्बलगन पी., वित्त विभाग की सचिव श्रीमती अलरमेल मंगई डी., संचालक नगरीय प्रशासन श्री अयाज तम्बोली सहित टूरिज्म बोर्ड छत्तीसगढ़ के प्रबंध संचालक श्री अनिल साहू सहित भारत सरकार के पर्यटन विभाग के अधिकारी शामिल हुए।

पिछला लेखभूमि की उर्वरा शक्ति बढ़ाने और पर्यावरण संरक्षण को ध्यान में रखते हुए किसान कर रहे हैं पैरादान
अगला लेखमुख्यमंत्री ने महात्मा ज्योतिबा फुले की पुण्यतिथि पर उन्हें किया नमन

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here