होम छत्तीसगढ़ गरियाबंद : जन-चौपाल में मिले 96 आवेदन

गरियाबंद : जन-चौपाल में मिले 96 आवेदन

22
0

कलेक्टर ने जनचौपाल में सुनी आम नागरिकों की समस्याएं
गरियाबंद। कलेक्टर श्री आकाश छिकारा ने आज आयोजित जनचौपाल में लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं सुनी। उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों को मौके पर आवेदकों को उनकी समस्या के निराकरण के संबंध मे आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये है। इनमें से कुछ प्रकरणों की जांच कर समय-सीमा की बैठक में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। जनचौपाल में 96 नागरिकों ने अपनी समस्या संबंधी आवेदन प्रस्तुत किये।
जनचौपाल में ग्राम पांडुका के किसानों ने कृषि जमीन में जल निकासी हेतु आवेदन दिया है। इसी प्रकार ग्राम धवलपुरडीह के चम्पेश्वर साहू, प्रेम लाल यादव, गिरधर सहित अन्य ने सार्वजनिक सुलभ शौचालय के भुगतान, ग्राम छिंदौला के रामलाल नागेश ने धारित काबिज भूमि का पट्टा दिलाने, ग्राम रवेली के हेमंत कुमार पटेल ने असंगठित कर्मकार प्रसूति सहायता योजना का लाभ दिलाने, ग्राम डोंगरीगांव के रमेश कुमार ध्रुव ने गरियाबंद जिले से निवास प्रमाण पत्र बनाने, ग्राम बोरसी के चेतनराम रात्रे ने प्रधानमंत्री आवास दिलाने, ग्राम कुटेना के टांकेश्वर राम साहू ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में नाम जुड़वाने, ग्राम परसदा जोशी के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भवन के समीप 11 केवी लाइन स्थानांतरण करने हेतु डिमांड राशि स्वीकृत करने, ग्राम गोबरा नवापारा तुलसी राम साहू ने पटवारी के द्वारा जमीन का नकल नहीं देने और सीमांकन करवाने, ग्राम परसदा जोशी के स्कूल प्रबंधन एवं विकास समिति द्वारा चिन्हांकित घास भूमि को शासकीय उत्तर माध्यमिक विद्यालय परसदा जोशी के नाम पर दर्ज करने, ग्राम बेलर की हेमलता ने राजस्व अभिलेख दुरुस्त करने, गरियाबंद के कुम्हारपारा के वार्डवासियों ने अधूरे आंगनबाड़ी भवन को पूर्ण कराने सहित पेंशन, आवास, नामांतरण, वन अधिकार पत्र, सीमांकन जैसे विभिन्न आवेदन प्रस्तुत किये। जनचौपाल में जिला पंचायत सीईओ श्रीमती रीता यादव, अपर कलेक्टर श्री अविनाश भोई, सभी एस.डी.एम, सभी जनपद सीईओ सहित समस्त विभाग के जिला प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।

पिछला लेखबलौदाबाजार : पीएससी एवं व्यापमं कोचिंग की निःशुल्क नई कक्षाएं 26 जुलाई से,अभ्यर्थी 21 जुलाई तक कर सकते है आवदेन
अगला लेखउप मुख्यमंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव 12 जुलाई को दिल्ली से लौटेंगे

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here