होम छत्तीसगढ़ कलेक्टर ने किया मतदान दलों के प्रशिक्षण का अवलोकन

कलेक्टर ने किया मतदान दलों के प्रशिक्षण का अवलोकन

15
0

मतदान दलों को दिया गया द्वितीय प्रशिक्षण
उत्तर बस्तर कांकेर। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक-80 भानुप्रतापपुर (अजजा) उप निर्वाचन के लिए नियुक्त मतदान दलों को आज द्वितीय प्रशिक्षण दिया गया। शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नरहरदेव में आज रिजर्व दल सहित 168 मतदान दलों को प्रशिक्षण दिया गया। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. प्रियंका शुक्ला और रिटर्निंग ऑफिसर सुमीत अग्रवाल ने मतदान दलों के प्रशिक्षण का निरीक्षण किया तथा प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे मतदान अधिकारियों से निर्वाचन प्रशिक्षण के संबंध जानकारी ली एवं समस्याओं के संबंध में पूछताछ किया। प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे मतदान दलों को संबोधित करते हुए कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने कहा कि मतदान दिवस को निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित समय अनुसार मॉकपोल करायें तथा मॉकपोल के बाद सीआरसी करना न भूलें। मतदान समाप्ति के बाद इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के क्लोज बटन को दबाना न भूलें। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर्स द्वारा जो जानकारी दी जा रही है, उसे भलीभांति समझें और किसी प्रकार की शंका हो तो उसका समाधान भी करा लेवें। कलेक्टर ने कहा कि अति आत्मविश्वास ठीक नहीं होता, इसलिए मतदान दल के सभी अधिकारी प्रशिक्षण को गंभीरता से लें और इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के संचालन को अच्छी तरह समझ लेंवे।
प्रशिक्षण में मतदान दलों को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के संचालन जैसे मॉकपोल कराने तत्पश्चात सीआरसी कराने, इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों का सीलिंग करने, पीठासीन अधिकारी एवं मतदान अधिकारियों का कर्तव्य, चौलेंज वोट, टेंडर वोट, परिणीयत एवं अपरिणीयत लिफाफा इत्यादि के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई एवं उससे संबंधित शंका का समाधान किया गया। प्रशिक्षण प्रभारी एवं जिला शिक्षा अधिकारी भुवन जैन की उपस्थिति में मास्टर ट्रेनर्स द्वारा मतदान दलों का प्रशिक्षण दिया गया। इस अवसर पर जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स सुरेश चंद श्रीवास्तव, नवरतन साव एवं गोविन्द सार्वा भी उपस्थित थे।

पिछला लेखधमतरी जिले के दो उप स्वास्थ्य केन्द्र गेदरा और गाड़ाडीह को मिला राष्ट्रीय गुणवत्ता प्रमाण पत्र
अगला लेखबलौदाबाजार नगर को मिली बड़ी सौगात,नगरीय प्रशासन मंत्री ने 5 करोड़ के कार्यों का किया भूमिपूजन एवं शिलान्यास

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here