Home Top -5 लिजेल ली ने दिलायी दक्षिण अफ्रीका को भारत पर जीत

लिजेल ली ने दिलायी दक्षिण अफ्रीका को भारत पर जीत

55
0

लखनऊ. लिजेल ली की करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने बारिश से प्रभावित तीसरे महिला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में शुक्रवार को यहां भारत पर डकवर्थ लुईस पद्धति से छह रन से जीत दर्ज करके पांच मैचों की श्रृंखला में 2-1 से बढ़त बनायी.

लिजेल ने 131 गेंदों पर 16 चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 132 रन बनाये. उनकी इस शानदार पारी की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने 249 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए जब 46.3 ओवर में चार विकेट पर 223 रन बनाये थे तभी बारिश आ गयी और फिर आगे खेल नहीं हो पाया. उस समय दक्षिण अफ्रीका डकवर्थ लुईस पद्धति से छह रन आगे था.

इससे पहले पूनम राउत के 108 गेंदों पर 11 चौकों की मदद से बनाये गये 77 रन तथा कप्तान मिताली राज (50 गेंदों 36 रन), उप कप्तान हरमनप्रीत कौर (46 गेंदों पर 36) और आलराउंडर दीप्ति शर्मा (49 गेंदों पर नाबाद 36) के उपयोगी योगदान से भारत ने पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित किये जाने के बाद पांच विकेट पर 248 रन बनाये थे.

लिजेल ने कप्तान लॉरा वोलवार्ट (12) के साथ पहले विकेट के लिये 41 रन जोड़े. भारत ने नौवें ओवर के बाद दोनों छोर से स्पिन आक्रमण लगाया तथा आफ स्पिनर दीप्ति शर्मा (39 रन देकर एक) ने अपने पहले ओवर में ही वोलवार्ट को बोल्ड करके इसे सही साबित किया.

अनुभवी झूलन गोस्वामी (20 रन देकर दो विकेट) ने लारा गुडॉल (41 गेंदों पर 16) को क्रीज पर पर्याप्त समय बिताने का फायदा नहीं उठाने दिया और उन्हें मिडआॅन पर हरमनप्रीत के हाथों कैच कराया. लिजेल को इसके बाद मिगनॉन डु प्रीज (46 गेंदों पर 37 रन) के रूप में अच्छी जोड़ीदार मिली जिनके साथ उन्होंने तीसरे विकेट के लिये 97 रन जोड़कर भारत की परेशानियां बढ़ा दी, लेकिन दक्षिण अफ्रीका ने एक ही स्कोर पर डु प्रीज और मारिजान कैप के विकेट गंवा दिये.

बायें हाथ की स्पिनर राजेश्वरी गायकवाड़ (39 रन देकर एक) ने डु प्रीज को कवर पर कैच देने के लिये मजबूर किया जबकि झूलन ने मिताली की मदद से मारिजान को आते ही पवेलियन भेजा. लिजेल ने हालांकि एक छोर संभाले रखा और हरमनप्रीत पर लांग आॅफ पर छक्का जड़कर वनडे में अपना तीसरा शतक पूरा किया और फिर इस प्रारूप में अपना सर्वोच्च स्कोर बनाया.

जब दक्षिण अफ्रीका को अंतिम पांच ओवर में 38 रन चाहिए थे तब लिजेल ने हरमनप्रीत पर लगातार दो चौके लगाकर दोनों टीमों के बीच अंतर पैदा किया. उन्होंने एन्ने बोस्क (नाबाद 16) के साथ पांचवें विकेट के लिये 45 रन की अटूट साझेदारी की.

इससे पहले भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसने पारी की दूसरी गेंद पर ही सलामी बल्लेबाज जेमिमा रोड्रिग्स (शून्य) का विकेट गंवा दिया. उन्होंने शबनीम इस्माइल (46 रन देकर दो विकेट) की गेंद पर विकेटकीपर सिनालो जाफता को कैच दिया.

इसके बाद राउत ने क्रीज पर कदम रखा और स्मृति मंधाना (27 गेंदों पर 25) के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिये 70 गेंदों पर 64 रन की साझेदारी की. मंधान हालांकि अपनी अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में नहीं बदल पायी. कप्तान मिताली ने अच्छी पारी खेली और इस बीच 10,000 अंतरराष्ट्रीय रन पूरे करने वाली भारत की पहली और दुनिया की दूसरी महिला क्रिकेटर बनी.

मिताली हालांकि यह उपलब्धि हासिल करने के तुरंत बाद एन्ने बोस्क की गेंद पर मिडविकेट पर खड़ी मिगनॉन डु प्रीज को आसान कैच देकर पवेलियन लौट गयी. उन्होंने अपनी पारी में पांच चौके लगाये. राउत भी इसके बाद जल्द ही पवेलियन लौट गयी और हरमनप्रीत कौर भी कुछ जानदार शॉट जमाने के बाद इस्माइल का दूसरा शिकार बनी. भारत का स्कोर 45 ओवर के बाद पांच विकेट पर 221 रन था.

आखिर में दीप्ति शर्मा और सुषमा वर्मा (नाबाद 14) ने छठे विकेट के लिये 27 रन अटूट साझेदारी की जिससे भारत 250 रन के करीब पहुंचा. दक्षिण अफ्रीका ने पहला वनडे आठ विकेट से जीता था जबकि भारत ने दूसरे मैच में नौ विकेट से जीत हासिल करके अच्छी वापसी की थी. चौथा मैच 14 मार्च को खेला जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here