Home मुख्य समाचार पाकिस्‍तान ने टेके भारत के सामने घुटने, 4.5 करोड़ मेड इन इंडिया...

पाकिस्‍तान ने टेके भारत के सामने घुटने, 4.5 करोड़ मेड इन इंडिया कोरोना वैक्‍सनी आयात करने का लिया फैसला

32
0

पाकिस्‍तान. कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने में नाकाम पाकिस्‍तान की सरकार ने आखिरकार भारत से मदद लेना स्‍वीकार कर लिया है. पाकिस्‍तान की इमरान खान सरकार ने भारत से कोरोनावायरस वैक्‍सीन का निर्यात करने का फैसला किया है. प्‍लानिंग मंत्री असद उमर ने बुधवार को इस बात की पुष्टि की है. असद नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर एनसीओसी) के प्रमुख भी हैं.

दि एक्‍सप्रेस ट्रिब्‍यून अखबार में छपी खबर के मुताबिक गावी वैक्‍सीन एलायंस के तहत पाकिस्‍तान अपने पड़ोसी मुल्‍क भारत से 4.5 करोड़ डोज का आयात करेगा. इस संबंध में बातचीत पूरी हो चुकी है और इसके बारे में आधिकारिक घोषणा 17 मार्च को की जाएगी.

वैक्‍सीन एलायंस, गावी, जेनेवा स्थित एक अंतरराष्‍ट्रीय संगठन है, जिसकी स्‍थापना 2000 में दुनिया के गरीब देशों में रहने वाले बच्‍चों के लिए नए और अप्रयुक्‍त टीके उपलब्‍ध कराने के उद्देश्‍य के साथ की गई थी. वर्तमान में, ये एलायंस कोविड-19 वैक्‍सीन की उपलब्‍धता में एक सक्रिय भूमिका निभा रहा है.

इससे पहले टाइम्‍स नाऊ ने भी मंगलवार को कहा था कि गावी ग्‍लोबल एलायंस फॉर वैक्‍सीनेशन एंड इम्‍यूनाइजेशन) वैक्‍सीन एलायंस के तहत पाकिस्‍तान भारत से 4.5 करोड़ इंडिया-मेड कोविड-19 वैक्‍सीन हासिल करेगा.

एक्‍सप्रेस ट्रिब्‍यून की खबर के मुताबिक, पहले चरण में 1.5 करोड़ डोज के लिए ऑर्डर दिया जाएगा, जबकि शेष 3 करोड़ डोज का आयात जुलाई से दिसंबर के बीच किया जाएगा. उमर ने इस बात की पुष्टि की है कि गावी के जरिये भारत से वैक्‍सीन का आयात करने का समझौता पिछले साल ही पूरा कर लिया गया था. भारत दुनिया में सबसे बड़े वैक्‍सीन उत्‍पादकों में से एक है.

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष आईएमएफ) की मुख्य अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथन ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने में भारत सबसे आगे रहा है. गोपीनाथन ने कोविड-19 संकट के दौरान इस महामारी से बचाव के लिए टीके का विनिर्माण करने और उसे कई देशों में भेजने में बहुत अहम भूमिका निभाने को लेकर भी भारत की तारीफ की. गोपीनाथन ने यह टिप्पणी डॉ हंसा मेहता व्याख्यान के दौरान की. इसका आयोजन अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर किया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here